Amavasya December 2023 पूजा विधि, शुभ मुहूर्त और महत्व

Amavasya December 2023 पूजा विधि, शुभ मुहूर्त और महत्व – 

हिंदू धर्म में अमावस्या का विशेष महत्व है। दिसंबर 2023 में साल की आखिरी अमावस्या होगी। कार्तिक माह में कृष्ण पक्ष की अमावस्या 12 दिसंबर को है। अमावस्या के दिन स्नान, दान और पूजा-पाठ का विशेष लाभ मिलता है। अमावस्या के दिन भगवान हनुमान और मंगल ग्रह की पूजा करनी चाहिए।

Amavasya December 2023 पूजा विधि, शुभ मुहूर्त और महत्व –

अमावस्या का महत्व 
अमावस्या का धार्मिक दृष्टि से खास महत्व है. मान्यता है कि अमावस्या के दिन व्रत पूजन और पितरों को जल तिल देने से पुण्यफल की प्राप्ति होती है।  माना जाता है कि इस दिन व्रत करने और शिव पार्वती की पूजा करने से सुहाग की आयु लंबी होती है और सौभाग्य की प्राप्ति होती है

सोमवती अमावस्या 2023 डेट (Kartik Somvati Amavasya 2023 Date)

इस साल की आखिरी सोमवती अमावस्या 13 नवंबर 2023, सोमवार को है. वैसे तो सभी अमावस्या बहुत खास होती है लेकिन सोमवार और शनिवार के दिन आने वाली अमावस्या पर शिव पूजा के लिए बहुत खास होती है. ऐसे में कार्तिक माह में सोमवती अमावस्या का संयोग साधक को दोगुना फल प्रदान करेंगा, क्योंकि इस दिन पूजा करने से शिव संग मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होगी.

माघ अमावस्या – 21 जनवरी 2023

अमावस्या तिथि शुरू – 21 जनवरी 2023, शाम- 06.17

अमावस्या तिथि समाप्त – 22 जनवरी 2023, सुबह- 02. 22

 

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले techbugs पर  Folllow us on  Twitter and Join Google news for More

Related Articles